प्रमुख जानकारी
मंदिर प्रशासन
यात्री व्यवस्था
अन्य आकर्षण
मौसम समाचार
अखण्ड ज्योति (नंदा दीपक)
     
   
 
श्री ओंकारेश्वर मंदिर के गर्भगृह में आदि अनादिकाल से अखण्ड ज्योति प्रज्ज्वलित है, चूंकि ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंग ब्रह्मा-विष्णू-महेश के रूप में एक ही शिवलिंग में प्रकट होने की किवदंती प्रचलित है। अतः एक ही दीपक में तीन ज्योति ज्योतिर्मय है। अखण्ड ज्योति का दीप मात्र चांदी से निर्मित है। यह ज्योति शुद्ध घी से प्रज्ज्वलित रहती है। शास्त्रों में अखण्ड दीपक का दर्शन मात्र ही परम सौभाग्य का प्रतीक माना गया है। अखण्ड ज्योति के लिए भेंट/ शुद्ध घी दान कर पुण्य लाभ अर्जित कर सकते है। इस पुनीत कार्य हेतु श्रद्धालुगण भेंट राशी मंदिर कार्यालय/ स्वागत कक्ष में जमा कर सकते है।

 
 
पूजन भेंट राशि
दीपघृत हेतु भेंट राशि                                            ११००/-