मंदिर प्रशासन
यात्री व्यवस्था
अन्य आकर्षण
एक झलक
और विडियो देखें
मौसम समाचार
घाट
     
   
  ओंकारेश्वर में नर्मदा नदी के तट पर कई सुन्दर घाट बने हुए हैं.यह नदी का प्रवाह सतत एवं स्थिर है एवं जल अत्यंत ही शुद्ध है. घाटों पर नदी की गहराई अधिक नहीं है. एवं श्रद्धालु आसानी से स्नान कर सकते हैं.  
  श्रद्धालुओं को गहरे पानी में जाने से बचाने के लिए लोहे की जालियां एवं पकड़ने वाली चैन लगाईं गई हैं. उनकी सुरक्षा के लिए सुरक्षा नौका का भी प्रबंध किया गया है.  
  कोटि तीर्थ घाट जो कि मुख्य मंदिर के ठीक सामने स्थित है सभी घाटों में सर्वाधिक महत्वपूर्ण माना गया है. यहाँ एक डुबकी लगाने से करोड़ों तीर्थों के पुण्य प्राप्त होते हैं.  
     
   
     
  ओंकारेश्वर में अन्य महत्वपूर्ण घाट इस प्रकार हैं.  
  चकर तीर्थ घाट  
  भैरों घाट  
  केवलराम घाट  
  नागर घाट  
  ब्रम्हपुरी घाट  
  संगम घाट