मंदिर प्रशासन
यात्री व्यवस्था
अन्य आकर्षण
एक झलक
और विडियो देखें
मौसम समाचार
पर्व त्यौहार सूची 2015
     
   
पर्व का नाम मुख्य दिवस दिनांक से दिनांक तक कुल दिन तीर्थ यात्रियों की संभावित संख्या विशेष रिमार्क
नव वर्ष ०१/०१/२०१५ ०१/०१/२०१५ ०१/०१/२०१५ २०००० स्नान स्नान, पूजन, परिक्रमा, महत्व
माघ पूर्णिमा ०५/०१/२०१५ ०४/०१/२०१५ ०५/०१/२०१५ १५००० स्नान स्नान, पूजन, परिक्रमा, महत्व
मकर संक्रांति १५/०१/२०१५ १४/०१/२०१५/ १६/०१/२०१५ ५०००० स्नान स्नान, पूजन, परिक्रमा, महत्व
मौनी अमावस्या २०/०१/२०१५ १९/०१/२०१५ २१/०१/२०१५ ४०००० स्नान स्नान, पूजन, परिक्रमा, महत्व
बसंत पंचमी २४/०१/२०१५/ २४/०१/२०१५/ २४/०१/२०१५/ २०००० विवाह सामूहिक, विवाह, दर्शन, पूजन
राष्ट्रीय पर्व एवं नर्मदा जयंती २६/०१/२०१५ २५/०१/२०१५ २६/०१/२०१५ १००००० दीपदान पिकनिक, दर्शन, पूजा
माघी पूर्णिमा ०३/०२/२०१५ ०२/०२/२०१५ ०३/०२/२०१५ १५००० स्नान स्नान, पूजन, परिक्रमा, महत्व
मेला महाशिवरात्रि १७/०२/२०१५ १५/०२/२०१५ १९/०२/२०१५ १५०००० स्नान स्नान, पूजन, परिक्रमा, महत्व
होली (धुलेंडी) ०६/०३/२०१५ ०५/०३/२०१५ ०६/०३/२०१५ २०००० स्नान पिकनिक, दर्शन, पूजा
रंग पंचमी १०/०३/२०१५ १०/०३/२०१५ १०/०३/२०१५ २०००० स्नान पिकनिक, दर्शन, पूजा
चैत्र अमावस्या एवं गुड़ी पड़वा २०/०३/२०१५ १९/०३/२०१५ २२/०३/२०१५ १५०००० स्नान स्नान, पूजन, परिक्रमा, महत्व
गणगौर पर्व २३/०३/२०१५ २२/०३/२०१५ २३/०३/२०१५ ३०००० - स्थानीय पर्व
हनुमान जयंती एवं पूर्णिमा ०४/०४/२०१५ ०३/०४/२०१५ ०४/०४/२०१५ ४०००० चन्द्रग्रहण स्नान, दर्शन
शनिश्चरी अमावस्या १८/०४/२०१५ १७/०४/२०१५ १९/०४/२०१५ ६०००० स्नान स्नान, पूजन, परिक्रमा
अक्षय तृतीय २१/०४/२०१५ २१/०४/२०१५ २२/०४/२०१५ ३०००० विवाह सामूहिक विवाह, दर्शन, पूजन
बुध पूर्णिमा वैशाख मास ०४/०५/२०१५ ०३/०५/२०१५ ०४/०५/२०१५ ४०००० स्नान दर्शन, पूजन, स्नान
सोमवती अमावस्या १८/०५/२०१५ १७/०५/२०१५ १९/०५/२०१५ १००००० सोमवती स्नान, पूजन, परिक्रमा
गंगा दशहरा २८/०५/२०१५ २७/०५/२०१५ २८/०५/२०१५ ३०००० दीपदान स्नान, पूजन, परिक्रमा
आषाढ़ अमावस्या १६/०६/२०१५ १५/०६/२०१५ १६/०६/२०१५ ४०००० स्नान ्नान, पूजन, परिक्रमा
अधिक मास अमावस्या १६/०७/२०१५ १५/०७/२०१५ १७/०७/२०१५ १००००० स्नान ्नान, पूजन, परिक्रमा
देवशयनी एकादशी २७/०७/२०१५ २६/०७/२०१५ २८/०७/२०१५ ५०००० महिला महिलाओं द्वारा विशेष स्नान
गुरुपूर्णिमा श्रावण मास आरम्भ ३१/०७/२०१५/ ३०/०७/२०१५ ०१/०८/२०१५ १२५००० दादा दरबार खंडवा स्नान, पूजन, परिक्रमा, दर्शन
प्रथम श्रावण रविवार व सोमवार ०३/०८/२०१५ ०२/०८/२०१५ ०४/०८/२०१५ ५०००० स्नान स्नान, पूजन, परिक्रमा, दर्शन
द्वितीय श्रावण रविवार व सोमवार १०/०८/२०१५ ०९/०८/२०१५ ११/०८/२०१५ ६०००० स्नान महाश्रंगर, स्नान, पूजन, दर्शन
हरियाली एवं शनि अमावस्या १४/०८/२०१५ १३/०८/२०१५ १४/०८/२०१५ ८०००० स्नान स्नान, पूजन, परिक्रमा
१५ अगस्त राष्ट्रीय पर्व १५/०८/२०१५ १५/०८/२०१५ १५/०८/२०१५ ३०००० स्नान पिकनिक, दर्शन, पूजन
तृतीय श्रावण रविवार, सोमवार १७/०८/२०१५ १६/०८/२०१५ १८/०८/२०१५ ८०००० स्नान महाअभिषेक
चतुर्थ श्रावण रविवार २३/०८/२०१५ २३/०८/२०१५ २३/०८/२०१५ ४०००० स्नान स्नान, पूजन, परिक्रमा
महासवारी चतुर्थ श्रावण सोमवार २४/०८/२०१५ २४/०८/२०१५ २५/०८/२०१५ ६०००० महासवारी महासवारी, गुलाल महोत्सव, स्नान, पूजन, दर्शन
श्रावण पूर्णिमा २९/०८/२०१५ २८/०८/२०१५ २९/०८/२०१५ ३०००० स्नान स्नान, पूजन, परिक्रमा
महारष्ट्रियन प्रथम रविवार, सोमवार ३१/०८/२०१५ ३०/०८/२०१५ ०१/०९/२०१५ ६०००० स्नान स्नान, पूजन, परिक्रमा
जन्माष्टमी महाराष्ट्रियन द्वितीय रविवार, सोमवार ०६/०९/२०१५ ०६/०९/२०१५ ०८/०९/२०१५ ६०००० स्नान स्नान, पूजन, परिक्रमा
पोला अमावस्या १२/०९/२०१५ १२/०९/२०१५ १४/०९/२०१५ ४०००० स्नान स्नान, पूजन, परिक्रमा
गणेश प्रतिमा विसर्जन २७/०९/२०१५ २७/०९/२०१५ २९/०९/२०१५ ५०००० स्नान स्नान, पूजन, परिक्रमा
सोमवती अमावस्या १२/१०/२०१५ ११/१०/२०१५ १३/१०/२०१५३ १००००० स्नान स्नान, पूजन, परिक्रमा
नवदुर्गा मूर्ती विसर्जन २२/१०/२०१५ २२/१०/२०१५ २४/१०/२०१५ ७५००० स्नान स्नान, पूजन, परिक्रमा
कुबेर भंडारी दर्शन ०९/११/२०१५ ०८/११/२०१५ ०९/११/२०१५ ४०००० स्नान स्नान, पूजन, परिक्रमा
कार्तिक मेला एवं पंचकोशी यात्रा प्रारंभ २५/११/२०१५ २१/११/२०१५ ०१/१२/२०१५ ११ २००००० मेला एवं पंचकोशी यात्रा स्नान, पूजन, परिक्रमा एवं मेला
अगहन अमावस्या ११/१२/२०१५ १०/१२/२०१५ ११/१२/२०१५ ३०००० दर्शन स्नान, दर्शन, पूजन, परिक्रमा
क्रिसमस डे २५/१२/२०१५ २४/१२/२०१५ २५/१२/२०१५ ४०००० स्नान स्नान, दर्शन, पूजन, परिक्रमा एवं पिकनिक
वर्ष समापन थर्टी फर्स्ट ३१/१२/२०१५ ३०/१२/२०१५ ३१/१२/२०१५ ४०००० वर्ष समापन स्नान, दर्शन, पूजन, परिक्रमा एवं पिकनिक
मुख्य त्यौहार
     
  सभी धार्मिक स्थलों की तरह ओंकारेश्वर में भी विभिन्न त्यौहार धूमधाम से मनाए जाते हैं. हिंदू धर्म में आने वाले सामान्य त्योहारों के अलावा यहाँ दो विशेष पर्व मनाए जाते हैं. जो कि सभी के आकर्षण का केंद्र हैं.  
 
कार्तिक उत्सव ” कार्तिक माह में मनाया जाता है. यह उत्सव १० दिन तक चलता है इस दौरान पंचक्रोशी यात्रा आयोजित की जाती है, जो की शुक्ल पक्ष की एकादशी को गोमुख घात से प्रारंभ होकर सनावद एवं बडवाह आदि होते हुए पूर्णिमा को ओंकारेश्वर मंदिर में दर्शनों के साथ समाप्त होती है.
इस अवसर पर विशाल मेले का भी आयोजन किया जाता है. समस्त भारत वर्ष से श्रद्धालु भारी संख्या में यहाँ आते हैं, एवं लंबे समय तक ठहरते हैं.
सोमवती अमावस्या के दिन भक्तों की संख्या अधिकतम हो जाती है क्योंकि इस दिन नर्मदा में स्नान करना सर्वोत्तम माना जाता है. इस पर्व के दौरान भगवान ओंकारेश्वर का विशेष पूजन एवं सेवा भक्तिभाव से की जाती है.
 
     
  महाशिवरात्रि” हिंदू पंचांग के फाल्गुन मास में मनाई जाती है. पौराणिक आख्यानों के अनुसार महाशिवरात्रि भगवान शिव एवं देवी पार्वती के विवाह के उपलक्ष्य में मनाई जाती है भगवन शिव के सभी मंदिरों में महाशिवरात्रि मनाये जाने का सर्वाधिक महत्व है. इस दिन विशेष पूजन अर्चन किया जाता है एवं प्रसाद वितरित किया जाता है  
 
नर्मदा जयंती
हिंदू पंचांग के माघ माह में मनाई जाती है. ओंकारेश्वर में यह त्यौहार हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है. यह त्यौहार माँ नर्मदा को समर्पित है. इस दिन दोपहर १२ बजे नर्मदा जी का जन्मोत्सव मनाया जाता है. तत्पश्चात सम्पूर्ण द्वीप एवं पर्वत को हजारों दीपकों से सजाया जाता है सध्याकाल में सभी दीप प्रज्ज्वलित करके माँ नर्मदा कि आरती होती है एवं आतिशबाजी की जाती है. इस अवसर पर विशाल भंडारे का आयोजन किया जाता है एवं हजारों भक्तगण सानंद प्रसाद प्राप्त करते हैं.
 
     
  भूतनी अमावस्या भूतनी अमावस्या वर्ष में दो बार आती है, एक बार अश्विन माह में एवं दूसरी बार चैत्र माह में. इस अवसर पर भारी संख्या में भक्तगण नर्मदा स्नान के लिए आते हैं.