भोलेनाथ की सोमवार सवारी
     
   
 
पवित्र नगरी ओंकारेश्वर में प्रति सोमवार भूत भावन भगवान् ओंकारेश्वर की सवारी मंदिर प्रांगण से सायं ५ बजे प्रारंभ होकर शंकराचार्य मंदिर से होते हुए कोटितीर्थ घाट पहुँचती है। घाट पर भोलेनाथ का पूजन, अभिषेक एवं आरती पश्चात भगवान् भोलेनाथ नौका विहार करते हुए ओमकार मठ घाट से होते हुए मुख्य मार्ग पहुँचती है, मुख्य मार्ग से भगवान् भोलेनाथ नगर दर्शन देते और भ्रमण करते हुए मंदिर पहुँचते है। मंदिर में आरती पश्चात सवारी का समापन होकर प्रसाद वितरण किया जाता है। सवारी के साथ आकर्षक वेशभूषा में नंदीगण, भजन समूह व भक्तगण आनंद लेते हुए साथ में भ्रमण करते है, बड़ा ही आनंदमयी वातावरण रहता है। दर्शनार्थी एवं श्रद्धालुगण से अनुरोध है की वर्षभर प्रति सोमवार सवारी और सावन माह में प्रति सोमवार शाही सवारी में शामिल होकर दर्शन लाभ लेवें। ओंकारेश्वर भगवान् की सवारी एवं सावन माह की शाही सवारी को आप प्रायोजित कर सकते है, या अपने परिवार की ओर से उसकी जिम्मेदारी ले सकते है। इस हेतु मंत्रोपचार पूजा एवं षोडपचार पूजा हेतु भेंट राशी मंदिर कार्यालय या स्वागत कक्ष में जमा कर सकते है।

 
 
पूजन भेंट राशि
सामान्य सोमवार हेतु भेंट राशि                                    २१००/-                       
विशेष सोमवार (श्रावण मास) हेतु भेंट राशि  ५१००/- 
 
     
 

 

 

विशेष सुविधाएं
पूजन आरती भोग
संस्कार जाप दान
ओंकार स्टोर
उपयोगी
बुकिंग सहायता

समय प्रातः 8 बजे से शाम 8 बजे

दान भेंट विकल्प
लाइव दर्शन
सोशल
  
फ़ॉलो करें